SatsangLive

The Spiritual Touch

Posts By / Arya Manu

गुरु पूर्णिमा संदेश : संत श्री आसाराम बापू

आत्मस्वरुप का ज्ञान पाने के अपने कर्त्तव्य की याद दिलाने वाला, मन को दैवी गुणों से विभूषित करनेवाला, सदगुरु के प्रेम और ज्ञान की गंगा में बारंबार डुबकी लगाने हेतु प्रोत्साहन देनेवाला जो पर्व है – वही है ‘गुरु पूर्णिमा’ । भगवान वेदव्यास ने वेदों का संकलन किया, १८ पुराणों और उपपुराणों की रचना की। [...]

0

गुरु पूर्णिमा – गुरु दीक्षा – गुरु दक्षिणा

आध्यात्मिकता में गुरु की आवश्यकता होती है | बिना किसी रास्ते के आप आध्यात्मिकता में सफल नहीं हो सकते हो | बिना गुरु के आप आध्यात्मिकता का रास्ता नहीं जान सकते हो | गुरु सभी आध्यात्मिकता में सफल हुए सभी लोगों के पास थे | गुरु का मतलब होता है :- ग का मतलब ज्ञान [...]

0

हिरोशिमा में परमाणु बरसी पर रामकथा का आयोजन

विध्वंस हुई धरा पर राम कथा से शांति का प्रयास HIROSHIMA JAPAN RAM KATHA BY PUJYA MORARI BAPU मानस मर्मज्ञ पूज्य मोरारी बापू आगामी ५ अगस्त से १३ अगस्त तक जापान के हिरोशिमा नगर में राम कथा अमृत रस की बौछार करेंगे. ये वही समय होगा जब द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान अमेरिका द्वारा इस [...]

0

जोहान्सबर्ग में बापू की राम कथा

JOHANNESBURG RAM KATHA BY PUJYA MORARI BAPU मानस मर्मज्ञ पूज्य संत श्री मुरारी बापू की आगामी दिनाक सात जुलाई से पन्द्रह जुलाई तक जोहान्सबर्ग में होने वाली कथा को लेकर भक्तों में बहुत उत्साह है. यद्यपि बापू पहली बार जोहान्सबर्ग नहीं पधार रहे किन्तु बापू को जितना सुनो,कमतर ही लगता है.   कथा से सम्बंधित [...]

0

Puri Rath Yatra 2012 : प्रभु चले गुंडिचा मंदिर

आतंकवाद के खतरे को देखते हुए गुरुवार को कड़ी सुरक्षा के बीच विश्व प्रसिद्ध रथयात्रा महोत्सव पूरे धार्मिक उत्साह के साथ मनाया गया। बारहवीं सदी के श्री जगन्नाथ मंदिर के देवताओं और उनकी परंपरागत रथयात्रा को देखने के लिए हजारों श्रद्धालु इस शहर में एकत्र हुए। डीजीपी मनमोहन प्रहराज ने बताया खुफिया एजेंसियों से संभावित [...]

0

श्रीजी को सवा लाख आम का भोग

नाथद्वारा स्थित पुष्टिमार्गीय वल्लभ संप्रदाय की प्रधान पीठ में विराजित प्रभु श्रीनाथजी को मंगलवार को स्वर्ण धर्मनुवाक पुरुषसूक्त के पाठ के साथ ज्य्ष्ठाभिशेक स्नान की सेवा अर्पित की गयी. केसर युक्त सुवासित जल से तिलकायत परिवार ने श्रीजी बावा को स्नान कराया. जिसके दर्शन का लाभ देश-विदेश से आये हजारो श्रृद्धालुओं ने लिया. केसर की [...]

0

जिस मंदिर में पाकिस्तान के छक्के छूट गए : तनोट माता

जैसलमेर से करीब 130 किमी दूर स्थि‍त माता तनोट राय (आवड़ माता) का मंदिर है। तनोट माता को देवी हिंगलाज माता का एक रूप माना जाता है। हिंगलाज माता शक्तिपीठ वर्तमान में पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के लासवेला जिले में स्थित है। भाटी राजपूत नरेश तणुराव ने तनोट को अपनी राजधानी बनाया था। उन्होंने विक्रम [...]

0

जन जन की आस्था का केन्द्र : सालासर बालाजी

राजस्थान के चुरू जिले के सालासर में स्थित भगवान बालाजी का मंदिर एक पवित्र धार्मिक स्थल है. भगवान हनुमान जी को समर्पित यह मंदिर सालासर के बालाजी नाम से भी विख्यात है. लोगों कि आस्था और विश्वास को समेटे यह मंदिर सभी भक्तों का पावन धाम है. मंदिर में हर समय भक्तों का तांता लगा [...]

0

चूहों वाली माता : करणी माता, देशनोक

राजस्थान भारत का एक ऐसा राज्य जो जितना खूबसूरत है उतना ही विचित्र भी। कहीं रेत के बड़े-बड़े अस्थायी पहाड़ हैं तो कहीं तालाब की सुंदरता। शौर्य और परंपरा की गाथाओं से सजती शाम जहाँ है तो वहीं आराधना का जलसा दिखते आठों पहर भी रेत की तरह ही फैले हैं। ऐसी ही तिलिस्मी दुनिया [...]

1

जहाँ दीपक से काजल नहीं,केसर बनती है : आई माता

जोधपुर के बिलाडा में नवदुर्गा अवतार श्री आई माता जी का मंदिर हैं। यह पश्चिमी राजस्थान एक का सुप्रसिद्ध मंदिर है जहाँ पूरे भारत से लोग दर्शनों के लिए आते हैं। बिलाड़ा स्थित यही वो मंदिर है जहाँ विश्व का अनोखा एवं अद्वितीय चमत्कार “अखंड केसर ज्योत” है। माता सिरवी समाज की आराध्य देवी है. [...]

0