SatsangLive

The Spiritual Touch

बधाई संदेश:श्री श्री रविशंकर

ओम.
जीवन का लक्ष्य और सार्थकता इस बात में है कि आशा के साथ भविष्य की ओर देखा जाये और आगे बढ़ा जाये. नव संवत्सर 2069 में हमें एक ऐसे उजालेshri shri ravishankar की उम्मीद रखनी चाहिए, जो देश की समस्याओं के अँधेरों को दूर भगा दे. देश के सामने खड़ी समस्याओं और चुनौतियों की सूची काफी लंबी है. गुरु-आशीर्वाद वह माध्यम है जिस से स्वयं के ह्रदय को साफ़ करके आगे बढ़ा जा सकता है. और जब व्यक्ति आगे बढ़ेगा तो समाज में प्रगति होगी. कलुषता मिटेगी और पवित्र उजाला फैलेगा.
मुझे बताया गया है कि उदयपुर के कुछ युवा मिलकर इंटरनेट के संजाल पर कुछ अच्छा करने की दिशा में आगे बढ़ रहे है. नवसंवत्सर पर वे सत्संग लाइव के माध्यम से सनातनी संतों को एक मंच पर लाने का प्रयास कर रहे है, जो सराहनीय है.
आज के इस दौर में इंटरनेट का उपयोग किसी से छुपा नहीं है. मात्र एक बटन पर पूरा विश्व आपके सम्मुख प्रस्तुत है. दुनियाभर की वेब साइटों पर ज्ञान बिखरा पड़ा है. ऐसे में सत्संग लाइव अपनी एक अलग छवि के साथ भारतीय संस्कृति के साथ साथ भारत की थाति योग, ध्यान क्रियाएँ आदि को लेकर भी कार्य करेगी. मुझे विश्वास है कि सत्संग लाइव समाज को एक दिशा देने में सार्थक भूमिका निभाएगी.

शुभकामनाओं सहित,

So, what do you think ?