SatsangLive

The Spiritual Touch

प्रदोष व्रत की कथा

प्रदोष व्रत : क्या क्या करें और क्या नहीं ?

29 अगस्त, बुधवार को प्रदोष व्रत (Pradosh Vrat) है। धर्म शास्त्रों के अनुसार प्रत्येक मास की दोनों त्रयोदशी को भगवान शिव के निमित्त व्रत किया जाता है इसे प्रदोष व्रत कहते हैं। सूतजी के अनुसार बुध प्रदोष व्रत करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। बुध प्रदोष व्रत के पालन के लिए शास्त्रोक्त विधान इस [...]

0
Morari bapu in Nathdwara: 7th day

Morari bapu in Nathdwara: सातवा दिन

बहू बनें जानकी, सास हो कौशल्या सी गुजराती में एक कहावत है सासु न चौमासू क्यारे आवे, ई खबर नत पड़ती। मतलब सास और बारिश कब आ जाए कौन बता सकता है। कितनी सास के कारण कितनी ही बहुओं को असमय अपने प्राण त्यागने पड़ते हैं। देश, समाज इससे बाहर आए। हर सास अपनी बहू [...]

1
बापू का स्केच (भास्कर )

Morari Bapu in Nathdwara: छठा दिन

बापू ने दिया राष्ट्र देवो भव:, प्रेम देवो भव:, परस्पर देवो भव: का संदेश नाथद्वारा । मुरारी बापू ने जब धरती धोरा री, धोरा री, या धरती धोरा री, चंदा अमृत रस बरसावे, या धरती धोरा री… गीत गाया तो मानो भव्य पांडाल में अमृत रस बरस गया। प्रकृति भी प्रतिदिन रामकथा के बाद रिमझिम-रिमझिम [...]

0
विनम्र भाव से बोला मिच्छामी दुक्कड़म

उदयपुर, राजसमन्द में सामूहिक पारणे, मिच्छामी दुक्कड़म

विनम्र भाव से बोला मिच्छामी दुक्कड़म  Jain dharma, paryushan, kshamapana 2012 राजसमंद. पर्युषण पर्व के तहत आठ दिनों तक तप आराधना के बाद बुधवार को जैन समाज की ओर से क्षमापना पर्व मनाया गया। इस मौके पर लोगों ने सालभर में जाने अनजाने में हुई हुई गलतियों के लिए मिच्छामी दुक्कड़म बोलकर एक दूसरे से [...]

0
bapu in nathdwara: 5th Day

Morari Bapu in Nathdwara: पांचवा दिन

जीवन को तृप्त कर देते हैं मां और प्रेम : मुरारी बापू नाथद्वारा. मुरारी बापू ने कहा कि मां और प्रेम का होना जीवन में बहुत आवश्यक है। यह जीवन को तृप्त कर देता है । प्रेम के बिना जीवन का कोई अर्थ नहीं है । मिराज ग्रुप की ओर से आयोजित मुरारी बापू इन [...]

0
कथा आरम्भ से पूर्व आरती उतारते मदन पालीवाल एवं हेमा मलिनी

Morari Bapu in Nathdwara: चौथा दिवस

नाथद्वारा. (राजसमंद)। कुछ अलग ही अनुभूति है यहां (लाल बाग स्टेडियम) की। भव्य पांडाल, मुरारी बापू जैसे शीतल संत के मुखारविंद से रामकथा के रूप में प्रस्फुटित होती दिव्य वाणी, 70 हजार के करीब श्रोता, तमाम जरूरी सुविधाएं। रात को होने वाली सांस्कृतिक कार्यक्रमों में देश-विदेश में ख्यात फनकारों की प्रस्तुतियां। नगरी है श्रीकृष्ण (श्रीनाथजी) [...]

0
kavita seth1

Morari Bapu in Nathdwara: कविता सेठ की लाजवाब प्रस्तुति

भादों मास का सोमवार वैसे भी बारिश से तर हो चुका था। लालबाग स्टेडियम में जब प्रसिद्ध सूफीयाना गायिका कविता सेठ ने सुरों की बरसात की और उसी रंग में नृत्य हुआ तो हजारों लोग सूफी रंग में रंग गए। ना तेरा खुदा कोई और है, न मेरा खुदा कोई और है, ये जो रास्ते [...]

0
जब वाहे गुरु को याद किया तो बापू ने कुछ इस तरह अपने सिर को ढंका

Morari Bapu in Nathdwara: तीसरा दिन

(सीधे श्री नाथद्वारा से आर्य मनु की रिपोर्ट ) श्री नाथद्वारा. “कलयुग केवल नाम अधारा, जपत जपति नर होय पारा” कलयुग में केवल नाम ही प्रभु स्मरण का एकमात्र आधार है. तुम राम का नाम लेते हो या कृष्ण का.. या किसी का भी.. उस में दिक्कत नहीं.. बस केवल नाम लो और उसमे प्रभु [...]

0
रुनीजा रा राजा

महाआरती के साथ शुरू हुआ बाबा रामदेव का मेला

जोधपुर.भाद्रपद के पहले शुक्लपक्ष की द्वितीया पर रविवार को मसूरिया स्थित बाबा रामदेव मंदिर में ‘बाबे री बीज’ का मेला अलसुबह पांच बजे 51 दीपक से महाआरती के साथ प्रारंभ हुआ। मसूरिया स्थित बाबा रामदेव के गुरु बालीनाथ के समाधिस्थल पर दर्शन के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु उमड़े। अलसुबह महाआरती के साथ ही बाबा [...]

0
morari bapu in nathdwara: 2nd day

Morari Bapu in Nathdwara: दूसरा दिन

नाथद्वारा। मिराज गु्रप द्वारा आयोजित रामकथा के दूसरे दिन बापू ने हनुमान स्तुति व रामधून के साथ कथा प्रारंभ की। इससे पूर्व बापू के मंच पर आने व व्यासपीठ पर विराजने के दौरान शंखनाद हुए। शंख की ध्वनि के साथ ही मिराज सीएमडी बापू को व्यासपीठ तक लाए। बापू व्यासपीठ को प्रणाम कर विराजित हुए। [...]

1
गौ की सेवा

पुरषोत्तम मास : क्या करें, क्या ना करें

हिंदू पंचांग के अनुसार विक्रम संवत् 2069 में (सन् 2012) भाद्रपद नामक अधिकमास है। यह अधिक मास 18 अगस्त, शनिवार को प्रारंभ होगा जो 16  सितंबर, रविवार तक रहेगा। धर्म ग्रंथों में इसे पुरुषोत्तम व मल मास भी कहा गया है। इस महीने में भगवान विष्णु का पूजन करने का विशेष महत्व है। ज्योतिषियों के [...]

0
नाथद्वारा फेस्टिवल के पहले दिन मंच पर विराजित बापू, साथ में मुख्यमंत्री गहलोत एवं मिराज के मदन पालीवाल

मोरारी बापू इन नाथद्वारा : पहला दिन

नाथद्वारा।रामकथा के पहले ही दिन मुरारी बापू ने रामचरित मानस के निचोड़ को प्रस्तुत कर दिया। बापू बोले, प्रेम में परमात्मा को प्रकट करने की क्षमता होती है। प्रेम शब्द के 300 से अधिक पर्यावाची शब्दों का प्रयोग मानस में किया गया है। मेरा मानना है कि मानस में प्रेम का 300 प्रतिशत समावेश है। [...]

1
मिराज के सीएमडी मदन पालीवाल के आवास पर बापू. साथ में है राजसमन्द के जिला कलक्टर डॉ. प्रीतम बी. यशवंत

श्रीजी की धरा पर रामकथा महाकुंभ आज से

नाथद्वारा। शीतल संत मोरारी बापू ने कहा है कि मेवाड़ के चार धामों में आने से मन प्रसन्नचित हो जाता है और श्रीनाथजी के दरबार में आने से सबसे ज्यादा प्रसन्नता नाथद्वारा आकर होती है। मेरे लिए तो और ज्यादा प्रसन्नता का विषय भी इसलिए है कि मैं यहां पर रामकथा लेकर आया हूं और [...]

0
Pathmeda-Goshala

पथमेड़ा गोशाला की कार्यकारिणी का गठन

सांचौर। निकटवर्ती गोपाल गोवर्धन गोशाला पथमेड़ा में दो दिवसीय राष्ट्रीय राष्ट्रीय अधिवेशन की शाम को संस्थापक एवं प्रधान संरक्षक गोगषि स्वामी दत्तशरणानंद महाराज के पावन सानिध्य में बैठक आयोजित हुई। जिसमें राष्ट्रीय कामधेनु कल्याण परिवार के विभिन्न प्रकल्पों, ट्रस्टों तथा गोशालाओं की नवीन कार्यकारिणी का गठन किया गया। राष्ट्रीय महामंत्री एवं प्रवक्ता पूनम राजपुरोहित मानवताधर्मी [...]

0
गौ की सेवा

आज बच्छ बारस (वत्स द्वादशी ): चाकू का काटा नहीं खायेंगी माताएं

प्राचीन हिंदू परंपरा के अनुसार सुहागिनें और माताएं मंगलवार  को बछ बारस (वत्स द्वादशी) पर्व मनाएंगी। इस पर्व में हषरेल्लास के साथ बछड़े वाली गाय की पूजा करते हुए संतान की सकुशलता की कामना की जाएगी। परंपरा के अनुसार इस दिन महिलाएं चाकू से कटी भोजन सामग्री से परहेज करेंगी। उदयपुर शहर के बाईजी राज [...]

0
ram nareshacrya ji: धर्म क्या है

धर्मं क्या है : जगद्गुरु रामानंदाचार्य श्री रामनरेशाचार्य जी

हमारे यहां कहा जाता है कि प्रेम का उत्पादन भी धन से ही होता है। श्रेष्ठ कर्म भी धन से होते हैं। गीता में भगवान ने कहा, चार तरह से लोग मेरा भजन करते हैं। कुछ लोग कठिनाई दूर करने के लिए। कुछ लोग समृद्ध के लिए। कुछ लोग ज्ञान की प्राप्ति के लिए और [...]

0
ganesh chaturthi

गणेश चौथ इस बार देर से

आमतौर पर जन्माष्टमी के ग्यारह दिन बाद आने वाली गणेश चतुर्थी इस बार 41 दिन बाद आएगी. ऐसा संयोग 19 साल बाद आया है. और सिर्फ गणेश चौथ ही नहीं अपितु इस बार श्राद्धपक्ष से लेकर नवरात्रि, दशहरा और दीपावली भी एक महीने की देरी से आएंगे। इसका कारण भाद्रपद में अधिकमास का आना है। तीन [...]

0
krishna

‘दोस्त’ तो कृष्ण और द्रौपदी भी थे

हमारी सामाजिक बीमारियों के पीछे वेस्टर्न कल्चर की छूत है या नहीं, यह सवाल दरअसल उतना बड़ा नहीं है, जितना कि अपने अहंकार को पोसने के लिए हमने बना दिया है। पश्चिम से हमने जो सीखा है और जिसका जिक्र मैंने पिछले पार्ट में किया, वह इससे बड़ी बात है, हालांकि हमें लगता है कि अगर [...]

1
meera bai

स्याम मने चाकर राखो जी (मीरा बाई के पद 02)

राग मांड स्याम मने चाकर राखो जी। गिरधारीलाल चाकर राखो जी।। चाकर रहसूं बाग लगासूं नित उठ दरसण पासूं। बिंद्राबन की कुंज गलिन में तेरी लीला गासूं।। चाकरी में दरसण पाऊं सुमिरण पाऊं खरची। भाव भगति जागीरी पाऊं तीनूं बातां सरसी।। मोर मुगट पीतांबर सोहे गल बैजंती माला। बिंद्राबन में धेनु चरावे मोहन मुरलीवाला। हरे [...]

0
meera

मीरा बाई के पद (Part -01)

  राग अलैया तोसों लाग्यो नेह रे प्यारे नागर नंदकुमार। मुरली तेरी मन हरह्ह्यौ बिसरह्ह्यौ घर ब्यौहार।। जबतैं श्रवननि धुनि परी घर अंगणा न सुहाय। पारधि ज्यूं चूकै नहीं म्रिगी बेधि द आय।। पानी पीर न जान ज्यों मीन तडफ मरि जाय। रसिक मधुपके मरमको नहीं समुझत कमल सुभाय।। दीपकको जो दया नहिं उडि-उडि मरत [...]

0
krishan

अब बीमा कवर के साथ गोविंदा आला रे…

जन्माष्टमी पर हर साल मुंबई में दही हांडी उत्सव का आयोजन किया जाता है। लेकिन धीरे-धीरे यह उत्सव महाराष्ट्र की पहचान बन गया है। इस उत्सव में मानव पिरामिड बनाकर ऊंचाई पर बंधी मटकी को फोड़ा जाता है। मटकी फोडऩे की कोशिश में गोविंदाओं को अक्सर चोट लग जाती है जबकि कई बार कुछ लोग [...]

0
dalai lama

Biography: Dalai Lama

  The 14th Dalai Lama was born Lhamo Döndrub, the 5th child of a large family in the farming village of Qinghai, China. At the age of 2, he was picked out as the rebirth of the thirteenth Dalai Lama and sent for formal monastic training to become a Buddhist monk and eventually become the [...]

0
osho

सेक्स से मुक्ति: सत्यम शिवम् सुंदरम्

प्रश्‍न—किसी ने ओशो से पूछा कि वह सेक्‍स से थक गया है। ओशो— सेक्‍स थकान लाता है। इसलिए मैं तुमसे कहता हूं कि इसकी अवहेलना मत करो। जब तक तुम इसके पागलपन को नहीं जान लेते, तुम इससे छुटकारा नहीं पा सकते। जब तक तुम इसकी व्‍यर्थता को नहीं पहचान लेते तब तक बदलाव असंभव [...]

0
bapu in nathdwara

Morari Bapu in Shri Nathdwara

मोरारी बापू इन नाथद्वारा Morari Bapu in Nathdwara….   NATHDWARA RAM KATHA The following information is provided by the organisers of Nathdwara Ram Katha. Katha location: Shri Damodar Lal Ji Stadium, Lalbagh, Nathdwara. Katha Dates: Saturday August 18th, 2012 – Sunday August 26th, 2012 Katha Timings: Saturday, August 18th : 4pm to 6pm August 19th to August 26th : 9.30am [...]

5
हनुमानजी

सिंदूर क्यों लगाते हैं हनुमानजी को ?

वैसे तो सिंदूर सुहाग का प्रतीक है और इसे सभी सुहागन स्त्रियों द्वारा मांग में लगाने की परंपरा है। सिंदूर का पूजन-पाठ में भी गहरा महत्व है। बहुत से देवी-देवताओं को सिंदूर अर्पित किया जाता है। श्री गणेश, माताजी, भैरव महाराज के अतिरिक्त मुख्य रूप से हनुमानजी को सिंदूर चढ़ाया जाता है। हनुमानजी का पूरा [...]

0