SatsangLive

The Spiritual Touch

murari-bapu

बधाई संदेश: मुरारी बापू

मेरे प्रिय, जय श्री राम. हमारे जीवन की डोर यही है. अपनी बात किसी को कहें. दूसरे की सुने, वार्तालाप करें. दूर बैठे लोगों को नयी तकनीक से जाने. जानकारियों का पिटारा खोले और सूचनाओं के सागर में गोते लगाएं. सम्प्रेषण है तो जीवन है, विस्तार है, बाहर है- भीतर है. एक के ह्रदय से [...]

0