SatsangLive

The Spiritual Touch

संत नारायणदास महाराज का जन्मदिवस आज, वीआईपी समेत शिष्यों का लगा तांता

0

समूचे राजस्थान के पूजनीय संत नारायण दास जी महाराज का जन्म दिवस अश्विनी माह के कृष्ण पक्ष की सप्तमी यानी आज त्रिवेणी धाम में धूम-धाम से मनाया जा रहा हैं।

शिष्यों ने अल सुबह से त्रिवेणी धाम पहुंचकर महाराज जी को जन्म दिवस पर बधाई दी और उनसे आशिर्वाद लिया। उनके शिष्य गजानंद शर्मा विश्वकर्मा ने बताया कि चिमनपुरा गांव में प. रामदयाल शर्मा के घर जन्मे नारायण दास बचपन से ही बहुत मेधावी हैं। उनके पिता व माता भूरी देवी ने बारह वर्ष की अल्प आयु में उन्हें संत भगवान दास को सौंप दिया। नारायण दास आजादी से पूर्व चालीस के दशक में त्रिवेणी धाम आ गए थे। धीरे-धीरे इनकी ख्याति राजस्थान सहित पूरे उत्तरी भारत में फैल गई। वर्तमान में संत नारायण दास त्रिवेणी धाम व डाकोर धाम गुजरात के पीठाधीश्वर है।

गौरतलब है कि इनके यशोगान की कीर्ति पूरे भारत में मानी जाती है। इन्होंने अनेक जगह विद्यालय, कॉलेज और अस्पतालों का निर्माण कराया। साथ ही कई पुराने मंदिरों का जीर्णोंद्धार भी करवाया। महाराज ने समय-समय पर कई यज्ञ भी करवाए हैं। इसके अलावा इन्होनें कई जगह सामाजिक हित के कार्यों में अपना योगदान दिया।  महाराज के शिष्यों के अनेक सत्संग मण्डल सुचारु रूप से चल रहे है जहां हर सप्ताह राम नाम सत्संग होता है। (साभार: न्यूज फ्लेश)sant narayandas ji maharaj

So, what do you think ?